Chandigarh Mayor: AAP प्रत्याशी चंडीगढ़ मेयर चुनाव में पराजय के बाद रोने लगे :

0
58
Chandigarh Mayor
Chandigarh Mayor
Screenshot 2024 01 31 at 20 11 34 चंडीगढ़ मेयर चुनाव में हार के बाद फूट फूट कर रोने लग

Chandigarh Mayor पद से हारने के बाद आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार कुलदीप कुमार (AAP candidate Kuldeep Kumar) रोने लगे। यह भी एक वीडियो है। भाजपा के मेयर पद के उम्मीदवार मनोज सोनकर को चुनाव के दौरान 16 वोट मिले, जबकि आप और कांग्रेस के संयुक्त उम्मीदवार कुलदीप सिंह को केवल 12 वोट मिले। जबकि आठ मत अवैध थे।\

Chandigarh Mayor चुनाव में अवैध घोषित वोटों को लेकर बहस चल रही है। आम आदमी पार्टी ने इस निर्णय पर गड़बड़ी का आरोप लगाया और दोबारा चुनाव कराने की मांग की है।चंडीगढ़ मेयर पद के बीजेपी प्रत्याशी मनोज सोनकर से दो वोटों से पराजित होने के बाद आपका प्रतिद्वंद्वी कुलदीप कुमार मीडिया के सामने रो पड़े। नजर आता है कि आप और कांग्रेस के पार्षद उन्हें चुप करा रहे हैं। समाचार एजेंसी PTI द्वारा रिकॉर्ड किए गए वीडियो में कांग्रेस और आप पार्टी के नेताओं को “लोकतंत्र की हत्या, भाजपा द्वारा लोकतंत्र की हत्या” कहते हुए दिखाई देता है।

Chandigarh Mayor : कुलदीप को मिले थे केवल 12 वोट

भाजपा के मेयर पद के उम्मीदवार मनोज सोनकर को चुनाव के दौरान 16 वोट मिले, जबकि आप और कांग्रेस के संयुक्त उम्मीदवार कुलदीप सिंह को केवल 12 वोट मिले। लेकिन आठ मत अवैध पाए गए। नतीजों की घोषणा के बाद आप और कांग्रेस ने भाजपा पर हमला बोला और बीजेपी पर देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था पर ‘बेशर्मी से कब्जा’ करने का आरोप लगाया।

भाजपा ने चंडीगढ़ मेयर चुनाव में आप और कांग्रेस को हराया, तीनों शीर्ष पदों पर कब्जा बरकरार रखा। आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने चुनावों को ‘लोकतंत्र के लिए काला दिन’ बताया जब परिणाम घोषित हुए।

Chandigarh Mayor चुनाव अभी भी चल रहा है। पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में मामला पहुँचा है। कोर्ट ने सुनवाई पूरी करने के लिए तीन हफ्ते का समय दिया है। कांग्रेस और आप दोनों ने मेयर चुनाव को रद्द करने की मांग की है। याचिका में कहा गया कि पीठासीन अधिकारी अनिल मसीह ने वोटों की गिनती के दौरान मतपत्रों से छेड़छाड़ की, जिसके परिणामस्वरूप उनके वोट अवैध करार दिए गए।

पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने आज चंडीगढ़ प्रशाशन को नोटिस जारी कर तीन हफ्ते में उत्तर देने को कहा है, चंडीगढ़ नगर निगम में मंगलवार को हुए चुनावों को लेकर। 26 फरवरी को मामले की अगली सुनवाई होगी।पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने आज याचिकाकर्ता को कोई राहत नहीं दी, चंडीगढ़ प्रशासन के वकील अनिल मेहता ने बताया। चंडीगढ़ प्रशासन को नोटिस भेजा गया है, जिस पर प्रशासन प्रतिक्रिया देगा। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने अनजाने में चुनावों में धांधली का आरोप लगाया है।

26 फरवरी को सुनवाई एक बार फिर होगी। याचिकाकर्ता के वकील ने अदालत को बताया कि चुनाव प्रक्रिया से पीठासीन अधिकारी ने छेड़छाड़ की, और एक पेनड्राइव में वीडियो दिखाया गया है, जिसमें वे वोट पर मार्क लगाते हुए दिखाई देते हैं।

आप-कांग्रेस ने पीठासीन अधिकारी पर आरोप लगाया

Chandigarh Mayor : पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में आप-कांग्रेस गठबंधन का बहुमत होते हुए भी मतगणना के दौरान मतपत्रों से छेड़छाड़ कर बीजेपी के प्रत्याशी को जीतने का आरोप लगाया गया है।

याचिका में मेयर चुनाव को रद करने, चुनाव से जुड़ा पूरा रिकॉर्ड बंद करने, मेयर पदभार संभालने पर रोक लगाने, चुनाव में हुई धांधली की जांच करने और नए सिरे से चुनाव हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज की निगरानी में करवाने की मांग की गई है।

चुनाव को रद्द करने का आग्रह

कांग्रेस-आप के मेयर पद के प्रत्याशी कुलदीप कुमार ने चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। याचिका में कहा गया कि चंडीगढ़ नगर निगम के सीनियर डिप्टी मेयर, डिप्टी मेयर और मेयर के चुनाव 30 जनवरी को हुए थे। मंगलवार को निर्धारित कार्यक्रम के तहत चुनाव भी हुए, लेकिन कांग्रेस-आप के 20 में से 8 वोट अवैध करार दिए गए, इसलिए भाजपा का उम्मीदवार मेयर चुना गया

Chandigarh Mayor: AAP प्रत्याशी चंडीगढ़ मेयर चुनाव में पराजय के बाद रोने लगे, सामने आया वीडियो

Drug smuggling case: मजीठिया के चार करीबियों को SIT समन


Discover more from VR LIVE GUJARAT: Gujarat News

Subscribe to get the latest posts to your email.